हेल्थ इंश्योरेंस से जुड़े सवालों के हल | हेल्थ इंश्योरेंस प्लान | Aviva India

बेस्ट हेल्थ इंश्योरेंस प्लान कैसे चुनें?

बेस्ट हेल्थ इंश्योरेंस प्लान कैसे चुनें?

यह एक तथ्य है कि आजकल चिकित्सा लागत में तेज गति से वृद्धि हो रही है| चिकित्सा लागतों में इन्फ्लेशन पिछले एक साल में 6-7% से बढ़कर 15% हो गई है। इन्शुरन्स रेगुलेटरी एंड डेवलपमेंट ऑथ्रोरिटी या भारत के आईआरडीए द्वारा 2011 में प्रकाशित एक स्वास्थ्य बीमा रिपोर्ट ने सुझाव दिया कि प्रमुख बीमारियों के लिए चिकित्सा खर्चो के दावों में 17% की वार्षिक वृद्धि हुई है। इस प्रकार, एक कुशल स्वास्थ्य बीमा पॉलिसी आज के दिन में एक अनिवार्य निवेश बन गई है।

इसके कारण विशेषकर युवावर्ग में जागरूकता बढ़ी है। लोग हेल्थ इन्शुरन्स पालिसी के टैक्स लाभों से अन्य बातों पर ध्यान देने लगे है। हालांकि हेल्थ इन्शुरन्स पालिसी में निवेश करने के लिए टैक्स लाभ निश्चित रूप से एक अच्छा प्रेरक है और यह दृष्टिकोण अक्सर लोगों को एक ऐसी नीति में निवेश करने में प्रेरित करता है जो अधिकतम कर लाभ प्रदान करता है| लेकिन वे मेडी-क्लेम के वास्तविक लाभों को खो देते है। इसलिए टैक्स लाभ कई कारकों में से एक हैं जो आपके निवेश निर्णय को प्रभावित करते हैं।

भारत में हेल्थ इन्शुरन्स बाजार में एक मुद्दा यह है कि प्रमुख कंपनियों में काम करने वाले अधिकांश लोगों को लगता है कि उनके एम्प्लायर द्वारा प्रदान किए गए इन्शुरन्स लाभ पर्याप्त हैं। इससे व्यक्तिगत रुचि और पालिसी में निवेश की इच्छा कम होती है। हालांकि, आपको यह ध्यान रखना होगा कि कॉर्पोरेट कवरेज केवल आपके एम्प्लॉयमेंट कॉन्ट्रैक्ट (रोजगार अनुबंध) के समय तक रहता है। कॉर्पोरेट हेल्थ इन्शुरन्स पालिसी के मामले में कुछ भी भुगतान किए बिना उन सभी लाभों का आनंद लेने के दौरान यह अहसास अक्सर खो जाता है।

इसके बारे में जाने का एक स्मार्ट तरीका आपकी व्यक्तिगत जरूरतों का मूल्यांकन करके ऑफिस ग्रुप प्लान पे निर्भर रहने के बजाय हेल्थ इन्शुरन्स पॉलिसी में निवेश करना है।

बाजार अलग-अलग पॉलिसीस की पेशकश करने वाली कंपनियों से भरा पड़ा है और आपको हर एक पालिसी पिछले की तुलना में अधिक आकर्षक लगती है। हालाँकि, चमकने वाला हर चीज़ सोना नहीं  होता और इसलिए एक अच्छी तरह से सोचा गया विकल्प बनाना बेहद महत्वपूर्ण हो जाता है। हमें उम्मीद है कि निम्नलिखित संकेत आपको सही दिशा में पहला कदम उठाने में मदद करेंगे।

हेल्थ इन्शुरन्स प्लान में निवेश क्यों करें?

चलो शुरुवात से देखते है। आपको अपनी कड़ी मेहनत की कमाई इन्शुरन्स पॉलिसी पर खर्च करने की आवश्यकता क्यों है जब कि आप उम्मीद करते है की आपके कार्यकाल की पूरी अवधि तक आपको नकद याने कॅश की आवश्यकता नहीं होगी?

इसका उत्तर उतना ही सरल है जितना कि यह पुरानी कहावत - रोकथाम इलाज से बेहतर है। हालाँकि, शायद यह हेल्थ इन्शुरन्स पॉलिसी को बढ़ावा देने का सबसे अच्छा तरीका नहीं है। हम जिस बात को समझाने की कोशिश कर रहे हैं वह यह है कि किसी भी चिकित्सा आपातकाल के लिए तैयार रहना बाद में दुखी होने से बेहतर है। आज के तेजी से भागती दुनिया प्रदूषण और असंख्य स्वास्थ्य समस्याओं से भरी हुई है जो रोज ही सैकड़ों लोगों को खासकर महानगरों में प्रभावित करती है। आप कभी नहीं जानते कि कब आपको मेडिकल और अस्पताल के बिलों का भुगतान करना पड़े।

हाल के दिनों में मेडिकल केयर की अत्यधिक उच्च कीमतों को देखते हुए और इस लेख की शुरुआत में दिए गए आँकड़ों को देखते हुए अस्पताल की एक यात्रा भी आपके पूरे जीवन बचत को समाप्त करने के लिए पर्याप्त हो सकती है। अस्पताल में भर्ती होने के पूर्व और बाद में लगनेवाले दवाओं और अन्य खर्च भी आपके हजारों रुपये खर्च करवा सकते है। कुछ अन्य कारक भी हैं जो आपको हेल्थ इन्शुरन्स खरीदने के लिए एक सही दिशा दे सकते है -

  • एक अच्छा हेल्थ इन्शुरन्स प्लान आपको किसी भी अनियोजित चिकित्सा आपातकाल के लिए तैयार करता है
  • यह आपकी ओर से मेडीकल केयर के उच्च लागत को कवर करता है
  • हेल्थ इन्शुरन्स पॉलिसियों का प्रीमियम आमतौर पर इलाज की वास्तविक लागत से सस्ता होता है
  • क्लेम प्रक्रिया आमतौर पर सरल और परेशानी मुक्त होती है
  • एक भरोसेमंद इन्सुरुर के साथ आपका क्लेम या दावा बेहतर अवसर खड़े करता हैं

Read More भारत में निवेश के 5 सबसे अच्छे विकल्प

कवरेज राशि का चयन कैसे करे?

जो प्लान अति-उच्च चिकित्सा लागतों को ऑफसेट करने के लिए अधिकतम स्वास्थ्य कवरेज और उपचार के लिए अधिकतम राशि प्रदान करती है उसी को चुने|

फॅमिली फ्लोटर प्लान?

पर्सनल हेल्थ प्लान इतना अद्भुत है कि हर कोई यह सुनिश्चित करना चाहता है कि उसके परिवार के सदस्यों को भी हेल्थ इन्शुरन्स पॉलिसी का लाभ मिले। लेकिन प्रत्येक सदस्य के लिए एक अलग प्लान खरीदना वित्तीय रूप से मुश्किल हो सकता है। इसलिए आपके मूल्यवान पैसे को बचाने के लिए पारिवारिक फ्लोटर योजना में निवेश करना उचित माना जाता है। एक परिवार फ्लोटर योजना के बारे में दिलचस्प बात यह है कि न केवल इसका प्रीमियम कम हैं बल्कि आमतौर पर इसकी राशि पर्सनल हेल्थ पॉलिसियों की तुलना में अधिक होती है।

अपना कैलकुलेशन सटीक रखे

हेल्थ प्लान चुनते समय हमेशा अपनी उम्र पर विचार करें। युवा लोगों के लिए जोखिम और प्रीमियम दोनों कम है। एक बार 40 के हो जाने पर आपकी आवश्यकताएं विकसित होंगी और आपके हेल्थ इन्शुरन्स में भी यह नजर आना चाहिए। इसका मतलब यह भी है कि आपको एक ऐसा प्लान खरीदने पर ध्यान केंद्रित करना है जो अधिकतम एज रिन्यूअल प्रदान करता है - या सीधे शब्दों में कहें तो एक प्लान जिसे आप अपने बुढ़ापे में आसानी से रिन्यू कर सकते हैं।

साथ ही जब आप विवाहित हो जाते हैं तो आपके हेल्थ प्लान को आपके और आपके पति या पत्नी की आयु और स्वास्थ्य दोनों का ध्यान रखना चाहिए।

किसी भी मौजूदा बीमारी के लिए न्यूनतम प्रतीक्षा अवधि चुनें

प्रत्येक हेल्थ इन्शुरन्स पॉलिसी पहले से मौजूद बीमारी के बारे में नियमों और शर्तों के अपने सेट के साथ आती है। आमतौर पर योजना शुरू होने से पहले मौजूद किसी भी बीमारी के लिए मेडिकल लाभ और कवरेज के लिए पात्र बनने के लिए एक प्रतीक्षा अवधि (वेटिंग पीरियड) होती है। समय अवधि 2-4 साल के बीच हो सकती है। इसलिए एक ऐसा प्लान चुनना उचित है जो न्यूनतम प्रतीक्षा अवधि प्रदान करता है।

प्रस्तुत सब-लिमिटस पर विचार करें

अधिकांश हेल्थ प्लान दैनिक मेडिकल खर्चों पर पूर्व निर्धारित सीमाओं के साथ आते हैं जैसे कि अस्पताल में भर्ती होने या एम्बुलेंस शुल्क, कमरे का किराया आदि। एक प्लान चुनें जो आपको उसी पर उच्चतम स्लैब प्रदान करे।

कोई भी निर्णय लेने से पहले विभिन्न प्रीमियम और ऑफ़र की तुलना करना न भूले।

निवेश करने से पहले तुलना करें

प्रीमियम राशि की तुलना हेल्थ इन्शुरन्स पॉलिसियों के साथ हमेशा की जानी चाहिए जो समान लाभ प्रदान करते हैं। यह सुनिश्चित करेगा कि आप अपनी हेल्थ इन्शुरन्स पॉलिसी से अधिकतम लाभ प्राप्त करें।

नेटवर्क अस्पताल

किसी भी हेल्थ प्लान में निवेश करने से पहले सुनिश्चित करें कि आप योजना के तहत आने वाले नेटवर्क अस्पतालों पर विचार किया है। नेटवर्क अस्पताल अस्पतालों का एक समूह हैं जो आपको अपनी वर्तमान हेल्थ प्लान को भुनाने की अनुमति देता है। हमेशा उसी प्लान के लिए जाएं जो आपके क्षेत्र में अधिकतम नेटवर्क अस्पताल प्रदान करता है अन्यथा आपका निवेश आपात स्थिति के समय में काम में नहीं आएगा|

एक्सक्लूशन को ध्यान में रखें

जिस तरह एक हेल्थ प्लान में बीमारियों का एक समूह शामिल है, वे कुछ अन्य बिमारियों को बाहर रखने के भी हकदार हैं। इसलिए प्लान खरीदने से पहले आपको उसमे शामिल सभी मेडिकल एल्मेंट्स और शर्तों पर ध्यान से विचार करना चाहिए। यह आपको भविष्य में एक अनावश्यक सिरदर्द से बचाने में मदद करेगा।

रिव्युस जरुरी है

रिव्युस देखने के बाद ही ऑनलाइन खरीदारी की जानी चाहिए। यह नियम किराने के सामान से लेकर हेल्थ प्लान सब पर लागू होता है। अपनी इच्छित हेल्थ प्लान पर ऑनलाइन शोध करते समय पिछले और मौजूदा उपयोगकर्ताओं द्वारा दी गई रिव्युस को ध्यान से पढ़े। यह आपको अपने बीमाकर्ता द्वारा दिए गए क्लेम्स के पीछे की वास्तविकता की स्पष्ट तस्वीर देगा और आपको स्मार्ट निवेश करने में मदद करेगा।

इस प्रकार से एक हेल्थ इन्शुरन्स प्लान किसी भी अन्य निवेश की तरह है और इसपर समय देकर और विचार करके रिसर्च किया जाना चाहिए। अपनी अगले हेल्थ प्लान को चुनने से पहले इन बुनियादी पॉइंट्स को ध्यान में रखें ताकि जब आप कठिन स्वास्थ्य मसलों से गुजर रहे हों तो उपचार का भुगतान कैसे करें यह एक अतिरिक्त चिंता का विषय आपके मन में नहीं रहे|

FEB 53/19

Talk to an Expert

Blog Category: 

Leave a Reply

1 + 4 =
Solve this simple math problem and enter the result. E.g. for 1+3, enter 4.